नारी ,नारी क्यों नहीं रहना चाहती..

आजकल एक बड़ी विडंबना सामने आ रही है नई पीढ़ी की युवा लड़कियों की सोच पर। हर लड़की अपने आप को साबित करे वो ठीक, पर प्रतियोगिता करे की वो पुरुष जैसी है वो कहा तक सही। हां,शायद बात अटपटी जरूर लग रही है पर हां खुद की पहचान खोकर आज की लडकिया पुरुष जैसे…

Read More

“सरदार वल्लभ भाई पटेल”: लौह पुरुष

सरदार वल्लभ भाई पटेल एक ऐसा नाम, जिसने भारत का नक्शा ही बदल दिया|सिर्फ नक्शा ही नहीं, उन्होंने भारत का इतिहास भी बदला|सरदार वल्लभ भाई पटेल सिर्फ नाम या शख्सियत नहीं,एक मिसाल है कामयाबी की|एक उदाहरण है, एकता का और पहचान है ताकत की |

Read More

अपने सपने, सपने बच्चों के..

हाल ही कुछ फिल्में बनी जो बच्चों के सपनो के आधार पृष्ठ पर थी। जिनमे एक ओर बच्चों को सपने देखने और पूरे करने की आज़ादी देना चाहिये पर ज़ोर दिया गया वही एक ओर माता पिता के सपनो को पूरा करने की जिम्मेदारी बच्चों की। शायद ये सवाल हर बच्चे और माता पिता के…

Read More