कमाना बहोत मुश्किल है निभाना उससे भी मुश्किल..

ज़िंदगी में आप बहुत से लोगों से मिलते है, अपनी ज़िंदगी में कई लोग आते जाते रहते है, और जो लोग रूकते उनसे हमारी उम्मीदें जुड़ जाती है। उनके साथ हम इस तरह घुल मिल जाते है कि मानो वो ही हमारी ज़िंदगी का एक हिस्सा हो । फिर वक़्त का पहिया घूमता और धीरे…

Read More

यादों का जाला..

कई दिनों से अनछूए मेरे दिल के किसी कोने में यादों का जाला सा लगा है। उसे हटाने के कई प्रयास किए मैंने, लेकिन कुछ ज़िद्दी सा मालूम पड़ता हैं|साफ़ हो ही नहीं रहा है। पहली दफे उसकी बर्थडे पार्टी में हम मिले। साँवला सा दमकता हुआ चेहरा, लाल रंग का वन पीस और कुछ…

Read More

रेत सी फिसलती जिंदगी..

रेत सी है यह ज़िन्दगी भी… दिन बीतते चले जाते है, हम महीनो पर पहुँच रहे होते है की साल बदल जाता है। बार बार मुट्ठी बंद करते है कि कुछ रह जाए हमारे पास पर सब रेत सा धीरे धीरे रिसता चला जाता है। कुछ तो रह जाए, हम हाथ खोलते है और हाथो में…

Read More

Free Business School ( Chapter 1)

When it comes to elaborating word business, Business itself allows you to think independently. A successful business always consists of right planning regarding finance and infrastructure. It is a myth that business goes Victorious only when the owner thinks about his profit. Whereas the truth is exactly opposite to it. You and your work can…

Read More

Conquering the Depression..

Dear society, I Am sorry I failed. Failed again but this time majorly. Sorry for not being good enough to keep up to your all set standards. I am sorry for being an average pupil, having dreams more significant than their list of achievements. Sorry for being a dreamer. I failed you, I failed my…

Read More