सफर- ए – ज़िन्दगी

सफर- ए – ज़िन्दगी क्यों गुमान है तुझे अपने होने पर, क्यों नाज़ है तुझे अपनी शौहरत पर, सांसे बाज़ार में ना बिका करती है। ज़िन्दगी हर पल धोखा देती हैं, अहमियत तो कर्मो से दिखाई पड़ती है। तू हर पल को जीने की ख्वाहिश रख, मानो खुशियों का मेला है जिंदगी, तू छोटी छोटी…

Read More

My City Kanpur..

Yes! You read that right. Kanpur is my city (hum kanpuriya hai), famous for many reasons still it’s one of the underrated cities. The city is situated on the banks of holy river Ganga and has it’s own historic importance. The famous revolt of freedom in 1857 gained momentum from this city only when Nana…

Read More