What are you becoming!!

What are you are becoming?You know what you want to become right? But are you really becoming what you want to be? Do you know what you really want to become? This kind of questions to yourself will really make you realize where you stand, where you’re you going and where you really want to…

Read More

बुलंद रख तू अपने इरादों को..

बुलंद रख तू अपने इरादों को, भूलना मत खुद से किये वादों को। उम्मीदों का आंचल पकड़ कर, ला पटक ज़मीन पर तारों को। आसमां से भी ऊंचा हौसला रख, खुद पर थोड़ा सा भरोसा कर। मंज़िल तू अपनी पायेगा, बस थोड़ा सा सब्र कर। कुछ तू इत्मीनान रख, चिंताओं को छोड़ कर। खुद को…

Read More

MOTHER..

MOTHER, Vivid memories of the mother who passed away a few years back. A long, selfless and devoted journey. Being the consort of a great human being must have been very tough but She took it in her strides and made it look very easy… Taiji (Nirmalatai Athavale – consort of Shree Pandurang Shashtriji Athavale)…

Read More

यादों का जाला..

कई दिनों से अनछूए मेरे दिल के किसी कोने में यादों का जाला सा लगा है। उसे हटाने के कई प्रयास किए मैंने, लेकिन कुछ ज़िद्दी सा मालूम पड़ता हैं|साफ़ हो ही नहीं रहा है। पहली दफे उसकी बर्थडे पार्टी में हम मिले। साँवला सा दमकता हुआ चेहरा, लाल रंग का वन पीस और कुछ…

Read More

रेत सी फिसलती जिंदगी..

रेत सी है यह ज़िन्दगी भी… दिन बीतते चले जाते है, हम महीनो पर पहुँच रहे होते है की साल बदल जाता है। बार बार मुट्ठी बंद करते है कि कुछ रह जाए हमारे पास पर सब रेत सा धीरे धीरे रिसता चला जाता है। कुछ तो रह जाए, हम हाथ खोलते है और हाथो में…

Read More